नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय | Neeraj Chopra Biography in Hindi

नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय ( Neeraj Chopra Biography in Hindi ), Age, Family, Education, Wiki, Career, Tokyo Olympic 2021, Achievements, Affair, Girlfriend, Wife, Net worth and more.

देश को 121 सालों के लंबे इंतजार के बाद आज ओलंपिक मे एथलीट मेडल का सपना पूरा हुआ। यह कारनामा देश के लाल Neeraj Chopra ने अपने भाले ( Javelin throw ) के दम पर कर दिखाया है। उन्होंने ना सिर्फ अपनी काबिलियत से देश के लिए मेडल लाया बल्कि वे ओलंपिक में भारत के लिए एथलीट में गोल्ड मेडल लाने वाले पहले खिलाड़ी बन इतिहास रच दिया।

उन्होंने भाले को सर्वाधिक दूरी फेंक कर गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। देश को उनसे काफी उम्मीदें थी और उन्हीं उम्मीदों को उन्होंने टूटने नहीं दिया और खेल के समापन से पहले देश को गोल्ड मेडल दिलाया। आज देश का हर व्यक्ति उन पर नाज करता है।

neeraj chopra biography hindi
Neeraj Chopra biography hindi

तो चलिए इस आर्टिकल में आज हम आपको नीरज चोपड़ा की संपूर्ण जीवनी ( Neeraj Chopra biography in hindi ) जैसे नीरज चोपड़ा का प्रारंभिक जीवन और परिवार( Early Life and Family ), नीरज चोपड़ा की शिक्षा ( Education ), नीरज चोपड़ा का ओलंपिक करियर ( Olympic Career ), नीरज चोपड़ा की उपलब्धियां ( Achievements ) तथा नीरज चोपड़ा से संबंधित वे सारे तथ्य ( Facts ) आप लोगों को बताऊंगा जिसे आप जानना चाहते हैं।

Table of Contents

Neeraj Chopra wiki, bio, age, Education, career and more

पूरा नामनीरज चोपड़ा
पेशाजैवलिन थ्रो एथलेटिक
जन्म24 दिसंबर 1997
उम्र23 वर्ष ( 2021 के अनुसार )
जन्म स्थानखंडरा, पानीपत ( हरियाणा )
गृह राज्यहरियाणा ( भारत )
पिता का नामसतीश कुमार
माता का नामसरोज देवी
बहने2 बहने
भाई2 भाई
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्महिंदू
राशिवृश्चिक
स्कूलडीएवी कॉलेज चंडीगढ़
शिक्षास्नातक
जातिरोर मराठा ( हिंदू )
वैवाहिक स्थितिअविवाहित
विश्व रैंकिंगचौथे स्थान पर
कोचउवे होन ( Uwe Hohn )
आंखों का रंगकाला
बालों का रंगकाला
एच आई ऊंचाई5 फीट 9 इंच
सैलरी15 लाख रुपए वार्षिक
कुल संपत्ति16 करोड से अधिक
सोशल मीडियाFacebook, Insta and Twitter
Neeraj Chopra Biography in Hindi

नीरज चोपड़ा का प्रारंभिक जीवन (Early Life)

देश को गौरवान्वित करने वाले Neeraj Chopra javelin throw athlete यानी कि भाला फेंकने वाले खिलाड़ी हैं। एक छोटे से गांव से शुरू होती है नीरज की कहानी। उनका जन्म 24 दिसंबर वर्ष 1997 को हरियाणा प्रदेश के पानीपत के खंडरा ग्राम में आर्थिक रूप से पिछड़े परिवार में हुआ था।

नीरज के पिता का नाम सतीश कुमार है जो पेसे से किसान है। उनकी माता सरोज देवी एक गृहणी है। बचपन में नीरज गोल मटोल तथा काफी मोटे होने के कारण गांव के दूसरे बच्चे उनका काफी मजाक उड़ाते थे। कहा जाता है कि जब वे 11 साल के थे तब उनका वजन 80 किलोग्राम का था।

उनके मोटापे के कारण परिवार के लोग भी काफी चिंतित रहते थे। इसी कारण से बचपन में ही उनके चाचा उन्हें दौड़ लगाने के लिए घर से स्टेडियम ले जाने लगे। लेकिन उनका मन दौड़ में कभी नहीं लगता था।

उस दौरान उन्होंने स्टेडियम के अंदर लोगों को भाला फेंकते हुए देखा और उसी दिन से उसके दिल में भाला फेंकने का एक जुनून पैदा हो गया। उस जुनून को उन्होंने आज तक जिंदा रखा और देश को मैडल दिलवाया।

नीरज चोपड़ा का परिवार (Neeraj Chopra Family)

माता-पिता के अलावा नीरज चोपड़ा की दो बहने तथा दो भाई हैं। अपने पांच भाई बहनों में नीरज सबसे बड़ा है। इनके अलावा इनके 3 सगे चाचा तथा चाची भी हैं। परिवार के सभी सदस्य संयुक्त रुप से रहते हैं। इनका परिवार खंडरा गांव के सबसे विशिष्ट परिवार में गिना जाता है।

नीरज चोपड़ा की शिक्षा (Neeraj Chopra Education)

Neeraj Chopra की प्रारंभिक शिक्षा DAV College Chandigarh से हुई। उच्च शिक्षा के लिए वे पानीपत आ गए तथा यहां से उन्होंने बिजनेस के क्षेत्र में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की। उनकी संपूर्ण शिक्षा उनके प्रदेश हरियाणा से संपन्न हुई। बचपन से ही खाने-पीने में होशियार नीरज चोपड़ा को पढ़ाई में बिल्कुल भी मन नहीं लगता था।

बचपन से ही उनका सपना देश के लिए मेडल जीतने का था। इसके लिए वे कॉलेज के दिनों में भी भाला फेंकने में काफी मेहनत करते थे। शिक्षकों ने उनके मेहनत को सराहा और उन्हें आगे बढ़ने के लिए शुभकामनाएं दी।

नीरज चोपड़ा का करियर (Neeraj Chopra javelin throw Career)

महज 11 वर्ष की उम्र में ही वे भाला फेंकने की प्रैक्टिस करने लगे। लेकिन उस वक्त उनका मोटापा उन्हें काफी परेशान करने लगा। उस समय उन्होंने सबसे पहले अपने मोटापा को कम करने के बारे में सोचा और उस पर लगभग 2 महीने तक लगातार जिम जाकर मेहनत किया।

जिसका नतीजा यह हुआ कि उन्होंने सिर्फ 2 महीने में ही अपना 18 किलो वजन कम कर लिया। जब वह दौड़ के लिए स्टेडियम जाते थे, उस वक्त उनकी मुलाकात जगवीर सिंह नाम के एक लड़के से हुई। जगबीर सिंह भाला फेंक प्रैक्टिस के लिए स्टेडियम आया करते थे।

उनको भाला फेंकते देख नीरज काफी प्रभावित हुए। इसके बाद उन्होंने उससे दोस्ती कर ली। अब वे दोनों प्रतिदिन साथ में प्रैक्टिस किया करते थे। वर्ष 2014 में उन्होंने पिता से जिद करके 7 हजार रुपए का एक भाला खरीदा था। जिसे आज तक उन्होंने संभाल कर रखा है।

इसके अलावा उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय लेवल की प्रतियोगिता खेलने के लिए लगभग 1 लाख रुपए का भाला खरीदा था, जो काफी सुर्खियों में रहा। 2016 के अंत तक उन्होंने अपने आप को काफी मजबूत कर लिया था। उन्होंने वर्ष 2017 के एशियाई चैंपियनशिप में अपना सबसे अच्छा परफॉर्मेंस देते हुए 50.23 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर मेडल अपने नाम कर लिया।

वर्ष 2017 में ही नीरज चोपड़ा ने IAAF डायमंड लीग में भी हिस्सा लिया था लेकिन इस लीग में उन्हें कामयाबी नहीं मिली और उन्हें सातवें स्थान पर ही संतुष्ट करना पड़ा। इस लीग में कामयाबी न मिलने के कारण उन्हें काफी दुख हुआ। उसके बाद उन्होंने अपने कोच के साथ मिलकर कठिन ट्रेनिंग की शुरुआत की।

जिसके फलस्वरूप आज देश को गौरवान्वित करने वाला समाचार प्राप्त हुआ। नीरज चोपड़ा ने ओलंपिक 2021 के भाला फेंक प्रतियोगिता में प्रथम आकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। आज पूरा देश उनकी जीत का जश्न मना रहा है।

नीरज चोपड़ा का पुरस्कार एवं उपलब्धियां (Neeraj Chopra Record and Achievements)

नीरज चोपड़ा की उपलब्धियों की लिस्ट बहुत लंबी है। आज मैं एक एक करके उनकी उपलब्धियों के बारे में आपको पूरी जानकारी दूंगा।

  • वर्ष 2012 में नीरज चोपड़ा ने लखनऊ में आयोजित अंडर-16 नेशनल जूनियर चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया था। उस दौरान उन्होंने 68.46 मीटर का बेस्ट थ्रो देकर गोल्ड मेडल हासिल किया।
  • वर्ष 2013 में नीरज ने नेशनल यूथ चैंपियनशिप में लगातार एक के बाद एक कमाल का थ्रो दिया। परंतु बदकिस्मती से उन्हें इस चैंपियनशिप में पहला स्थान नहीं मिला। लेकिन दूसरे स्थान पर रहकर उन्होंने वर्ल्ड यूथ चैंपियनशिप ( IAAF ) में अपना स्थान सुनिश्चित कर लिया।
  • इंटर यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप में उन्होंने 81.04 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर वर्ष 2015 में अपने एज ग्रुप का सबसे बड़ा रिकॉर्ड बनाया। इसके बाद उन्हें लोगों का काफी प्यार और सपोर्ट मिला।
  • बुलंद हौसले के साथ वर्ष 2016 में नीरज चोपड़ा ने जूनियर विश्व चैंपियनशिप में भाग लेकर विश्व रिकॉर्ड बनाया। यहां उन्होंने 86.48 मीटर भाला फेंक कर गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। इसी वर्ष पीवी सिंधु और साक्षी मलिक मेडल का जश्न मना रहे थे।
  • उसी साल 2016 में नीरज चोपड़ा ने दक्षिण एशियाई खेलों में 82.23 मीटर भाला फेंक कर देश के लिए स्वर्ण पदक जीता। यह कारनामा उन्होंने पहले राउंड में ही करके दिखाया।
  • एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ 85.23 मीटर का भाला फेंक कर वर्ष 2017 में उन्होंने स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया।
  • वर्ष 2018 में 86.47 मीटर भाला फेंक कर उन्होंने गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। यह कॉमनवेल्थ गेम गोल्ड कोस्ट में आयोजित किया गया था।
  • वर्ष 2018 में उन्होंने जकार्ता एशियन गेम में 88.06 मीटर भाला फेंक कर गोल्ड मेडल देश के नाम किया साथ ही उन्होंने राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बनाया।
  • वर्ष 2019 में उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा जब उनके कंधे में चोट के कारण खेल नहीं पाए। फिर कंधे की सर्जरी के कारण महीनों तक आराम करना पड़ा। वर्ष 2020 आते-आते कोरोना के कारण सभी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी गई थी।
  • लॉकडाउन के दौरान उन्होंने कड़ी मेहनत कर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने का संकल्प लिया था। उनका सपना शनिवार 7 अगस्त 2021 को टोक्यो ओलंपिक में पूरा हुआ। जब उन्होंने 87.58 मीटर का सर्वश्रेष्ठ भाला फेंक कर गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया।

आपको बता दूं नीरज चोपड़ा पहले जैवलिन थ्रोवर हैं जिन्होंने एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल प्राप्त किया। इसके अलावा एक साथ एशियन गेम तथा कॉमनवेल्थ गेम में गोल्ड मेडल प्राप्त करने वाले वे दूसरे खिलाड़ी हैं। पहले नंबर पर इसका रिकॉर्ड मिल्खा सिंह ने बनाया था।

Neeraj Chopra Tokyo Olympic 2021

टोक्यो ओलंपिक 2021 में जैवलिन थ्रो नीरज चोपड़ा गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय हैं। पहले प्रयास में उन्होंने 87.03 मीटर भाला फेंक कर बढ़त बनाई। दूसरे प्रयास में उन्होंने 87.58 मीटर भाला फेंका तथा तीसरे प्रयास में 76.79 मीटर भाला फेंक कर इस स्पर्धा में गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया।

पूरे 6 राउंड में से पहले ही दो राउंड में उन्होंने काफी बढ़त बना लिया था जिसको अगले 4 राउंड में किसी भी खिलाड़ी ने तोड़ नहीं पाया। जिसके कारण नीरज चोपड़ा की पोजीशन नंबर वन पर बनी रही। इस जीत के बाद भारत की झोली में कुल 7 पदक आए। और ओलंपिक में इतनी पदक लाने का भारत ने पहला रिकॉर्ड बनाया। वर्ष 2012 में लंदन ओलंपिक में भारत की झोली में 6 पदक आए थे।

नीरज चोपड़ा (Affair, Girlfriend, Wife)

अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार 23 साल के नीरज चोपड़ा की कोई गर्लफ्रेंड नहीं है और ना ही उनके अफेयर के चर्चे हैं। अभी तक उनकी शादी भी नहीं हुई है। वे ज्यादातर समय अपने प्रैक्टिस में लगाते हैं। वे प्रतिदिन 6 से 7 घंटे प्रेक्टिस करते हैं। टोक्यो ओलंपिक के बाद अनुमान है कि जल्द ही उनके परिवार वाले उन्हें शादी के बंधन में बांध सकते हैं।

नीरज चोपड़ा का सर्वश्रेष्ठ थ्रो (Neeraj Chopra Best Throw)

उनके पूरे खेल जीवन में टोक्यो ओलंपिक का फाइनल मैच जिसमें उन्होंने 87.58 डिस्टेंस का भाला फेंक कर इतिहास रचा। यह Neeraj Chopra का best throw है। इस थ्रो के बाद वे 121 साल बाद एथलेटिक में गोल्ड मेडल लाने वाले पहले भारतीय बने।

नीरज चोपड़ा की गिनती अब दुनिया के दिग्गज जैवलिन थ्रोवर में होने लगी। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि मैं गलती से जैवलिन थ्रो में आया। उन्होंने कहा कि मैं फिटनेस के मामले में काफी टेंशन में रहता था। इसलिए फिटनेस के लिए मैं स्टेडियम में दौड़ लगाना शुरू किया फिर सीनियर्स को देखकर मुझे भी जैवलिन थ्रो करने की इच्छा हुई।

मैं प्रतिदिन बस में बैठकर स्टेडियम जाया करता था क्योंकि स्टेडियम घर से 14 किलोमीटर दूर था। गांव के आस पास ऐसी माहौल भी नहीं थी कि मुझे किसी से प्रेरणा मिले। मुझे मेरी सीनियर से काफी प्रेरणा मिली। उनका अगला लक्ष्य 90 मीटर की दूरी तय करना है जिसके लिए उन्होंने परिश्रम करना शुरू कर दिया है।

नीरज चोपड़ा का विश्व रैंकिंग (Neeraj Chopra World Ranking)

विश्व रैंकिंग में नीरज चोपड़ा आज 88.07 मीटर के साथ चौथे स्थान पर है। पहले स्थान पर Johannes Vetter 96.29 मीटर दूसरे स्थान पर Marcin Krukowski 89.55 मीटर तथा तीसरे स्थान पर Keshorn Walcott 89.12 मीटर के साथ बढ़त बनाए हुए हैं। नीरज चोपड़ा ने विश्वस्तरीय कई पुरस्कार और मेडल अपने नाम किया है।

सूबेदार नीरज चोपड़ा (Subedar Neeraj Chopra)

यह बात बहुत कम ही लोगों को पता होगा की भारत के लिए गोल्ड मेडल लाने वाले नीरज चोपड़ा इससे पहले भारतीय सेना में सूबेदार के पद पर कार्यरत थे। 15 मई 2016 को सीधी भर्ती कर उन्हें सूबेदार के रूप में 4 राजपूताना राइफल में दाखिला मिला।

सेना में भर्ती होने के बाद उन्हें पुणे में मिशन ओलंपिक विंग और सेना खेल संस्थान में प्रशिक्षण के लिए चुना गया। टोक्यो ओलंपिक 2021 के दौरान उन्होंने तिरंगे को जिस प्रकार से सम्मान दिया वैसा कोई सेना का जवान ही कर सकता है। इसके लिए उन्हें देश भर से काफी तारीफ मिली और यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुआ था।

नीरज चोपड़ा का कोच (Neeraj Chopra coach)

टोक्यो ओलंपिक के बाद गोल्डन ब्वॉय के नाम से मशहूर नीरज चोपड़ा का वर्तमान कोच का नाम Uwe Hohn है। वे जर्मनी के प्रसिद्ध कोच में से एक है। जिन्होंने 100 मीटर भाला फेंक कर इतिहास रचा है। उन्हीं के मार्गदर्शन से नीरज ने पहले एशियाई गेम फिर ओलंपिक में अपना झंडा बुलंद किया है।

अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित है Neeraj Chopra

बचपन से आर्थिक संकटों का सामना कर रहे हैं नीरज चोपड़ा अपनी मेहनत और लगन से आज इस मुकाम पर पहुंचा है। सूबेदार बनकर देश की रक्षा का जो संकल्प लिया उससे सारा देश उन पर गर्व करता है।

वर्ष 2018 में सूबेदार नीरज चोपड़ा को राष्ट्रपति के द्वारा अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उस दिन उनके परिवार वालों को नीरज पर काफी गर्व हुआ। इसके अलावा उन्होंने देश के लिए कई मेडल तथा उपलब्धियां हासिल की है।

नीरज चोपड़ा को सरकार द्वारा मिले इनाम (Neeraj Chopra Rewards)

देश के लिए गोल्ड मेडल लाने वाले नीरज चोपड़ा पर आज पूरा देश गर्व कर रहा है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के अलावा, गृहमंत्री अमित शाह, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद तथा तमाम नेताओं ने उन्हें बधाइयां और शुभकामनाएं दी।

उनके गृह राज्य हरियाणा के लोग अपने हीरो को एक बार देखने के लिए काफी उत्सुक हैं। उनकी जीत पर भारत के अलग-अलग राज्यों की सरकारों ने विभिन्न प्रकार के नामों की घोषणा की है। आइए इनके बारे में आपको विस्तार से बताते हैं।

  • गृह राज्य हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने उन्हें 6 करोड रुपए नगद के साथ-साथ एक 1 ग्रेड का सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। साथ ही उन्हें आधे दाम पर जमीन देने का भी वायदा किया है।
  • पंजाब सरकार द्वारा नीरज चोपड़ा को उनके अच्छे प्रदर्शन के लिए 2 करोड रुपए की नगद राशि का ऐलान किया है। इसके अलावा पंजाब सरकार ने टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों के नाम पर स्कूलों और सड़कों का नाम रखने का ऐलान किया है।
  • मणिपुर सरकार ने नीरज को 1 करोड़ रुपए इनाम स्वरूप देने की घोषणा की है।
  • भारतीय रेलवे ने नीरज चोपड़ा के लिए 3 करोड रुपए इनाम स्वरूप देने की घोषणा की है।
  • गोरखपुर नगर निगम की ओर से उन्हें 1 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा साथ ही एयरपोर्ट पर उनका भव्य स्वागत भी किया जाएगा।
  • इंडियन क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ( BCCI ) ने नीरज चोपड़ा को 1 करोड़ रुपए नगद इनाम देने की घोषणा की है।
  • आईपीएल की प्रसिद्ध टीम चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक ने नीरज चोपड़ा को एक करोड रुपए ईनाम स्वरूप देने की घोषणा की है।
  • भारत की प्रसिद्ध वायु सेवा कंपनी इंडिगो ने नीरज चोपड़ा के लिए 1 साल का अनलिमिटेड फ्री ट्रेवल पास देने की घोषणा की है।
  • इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन ने नीरज चोपड़ा को 75 लाख रुपए बतौर इनाम स्वरूप देने की घोषणा की है।
  • भारत की मशहूर ऑटोमोबाइल कंपनी महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने नीरज चोपड़ा को अपने खास अंदाज में XUV700 देने की घोषणा की है।

इनाम मिलने के बाद नीरज चोपड़ा की कुल संपत्ति (Neeraj Chopra Salary and Networth)

नीरज चोपड़ा के इस कारनामे के बाद उनके ऊपर इनामों की बारिश होने लगी। हालांकि सूबेदार नीरज चोपड़ा की वार्षिक आय 15 लाख रुपए है। लेकिन ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने के बाद वे करोड़ों के मालिक बन चुके हैं। इनामों से मिले उनकी कुल संपत्ति लगभग 16 करोड रुपए हो चुकी है। और यह उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत और अथक परिश्रम के बल पर प्राप्त किया है।

नीरज चोपड़ा का रिकॉर्ड (Neeraj chopra record)

  • 121 साल बाद भारत की झोली में एथलेटिक पदक जीतने का रिकॉर्ड नीरज चोपड़ा के नाम रहा। साथ ही भाला फेंक प्रतियोगिता में भारत को पहली बार स्वर्ण पदक हासिल हुआ।
  • अभिनव बिंद्रा के बाद नीरज चोपड़ा दूसरे भारतीय हैं जिन्होंने ओलंपिक में गोल्ड मेडल हासिल किया।
  • 13 साल के लंबे इंतजार के बाद नीरज ने स्वर्ण पदक भारत को दिलवाया।
  • नीरज चोपड़ा मुख्य रूप से ट्रैक एंड फील्ड प्लेयर है। इस इवेंट में वे गोल्ड मेडल लाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी हैं।
  • इस जीत के बाद उन्होंने 87.58 मीटर का बेस्ट थ्रो दिया।

नीरज चोपड़ा का सोशल मीडिया अकाउंट (Neeraj Chopra Social media handles)

Neeraj Chopra खेल के क्षेत्र में बेहतरीन प्रदर्शन करने के साथ- साथ सोशल मीडिया में भी काफी एक्टिव रहते हैं। उनकी ऑफिशियल फेसबुक पेज में लगभग 4 लाख Followers हैं। इसके अलावा वे ट्विटर में अभी काफी एक्टिव रहते हैं। सरकार के मुद्दों को वे ट्विटर के माध्यम से समर्थन या विरोध भी करते हैं। आप नीचे दिए गए लिंक का उपयोग कर उन्हें फॉलो कर सकते हैं

FacebookClick here
TwitterClick here
InstagramClick here

नीरज चोपड़ा से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य (Facts) :-

  • नीरज चोपड़ा एक भारतीय जैवलिन थ्रो एथलेटिक्स है।
  • हरियाणा में जन्मे नीरज चोपड़ा का परिवार आर्थिक रूप से कमजोर था।
  • बचपन में ओवर वेट होने के कारण आसपास के बच्चे उन्हें मोटा कह कर चिढ़ाते थे। इससे परिवार वाले काफी चिंतित रहते थे।
  • उनके मोटापे को कम करने के लिए उनके चाचा ने बचपन में उन्हें दौड़ने के लिए स्टेडियम ले जाया करते थे। लेकिन दौड़ में उनका मन नहीं लगता था।
  • स्टेडियम में लोगों को भाला फेंकते देख उन्हें भी भाला फेंकने की प्रेरणा मिली।
  • उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि वे जैवलिन थ्रो में अचानक से आए। इसमें उन्होंने करियर बनाने के बारे में बिल्कुल नहीं सोचा था।
  • जब वे 8-9 वर्ष के थे तब से उन्होंने बाल रखना शुरू कर दिया था। वे स्टाइलिश लुक के लिए बाल रखते थे। ओलंपिक 2021 में जाने से पहले उन्होंने अपना बाल कटवा लिए थे।
  • एक रियलिटी शो के दरमियान उन्हें उनके बाल रखने के इंस्पिरेशन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बड़ी सादगी से कहा कि यह मेरा खुद का इंस्पिरेशन है।
  • उनकी खाने पीने का तरीका बिल्कुल सादा है। यहां तक की ओलंपिक में जाने से पहले उन्होंने मीठा खाना बंद कर दिया था।
  • उनकी बहन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वे इतनी मेहनत करते हैं की उन्हें शादी तथा पार्टियों में जाने के लिए टाइम नहीं मिलता।
  • नीरज चोपड़ा हर क्षेत्र में निपुण है। उनका डांस करते हुए धांसू वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसे लोगों ने काफी पसंद किया।
  • इंडियन आर्मी में सूबेदार के पद पर कार्यरत नीरज चोपड़ा की वार्षिक आय 15 लाख रुपए है।
  • उन्होंने कई मेडल अपने नाम किए हैं। साथ ही कई रिकॉर्ड्स भी बनाए हैं।
  • अब उनका लक्ष्य 90 मीटर जैवलिन थ्रो का है। जिसके लिए उन्होंने तैयारी शुरू कर दी है।

नीरज चोपड़ा से संबंधित FaQ:-

Q) नीरज चोपड़ा कौन है?

Ans: जैवलिन थ्रो एथलेटिक है

Q) नीरज चोपड़ा क्यों फेमस हैं?

Ans : उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता।

Q) नीरज चोपड़ा की उम्र ( age ) कितनी है

Ans : 23 years ( वर्ष 2021 के अनुसार )

Q) नीरज चोपड़ा की ऊंचाई ( height ) क्या है?

Ans : 5 फुट 9 इंच

Q) नीरज चोपड़ा कौन सी जाति ( cast ) से संबंध रखते हैं?

Ans: रोर मराठा ( सनातनी हिंदू )

Q) नीरज चोपड़ा की गर्लफ्रेंड ( Girlfriend ) का क्या नाम है?

Ans: फिलहाल उनकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है।

Q) नीरज चोपड़ा की पत्नी का क्या नाम है?

Ans : अभी वे अविवाहित है। उनकी कोई पत्नी नहीं है।

Q) नीरज चोपड़ा की सैलरी कितनी है?

Ans: 15 लाख प्रतिवर्ष

Q) ओलंपिक में गोल्ड मेडल के लिए उनका बेस्ट थ्रो कितना था?

Ans : 87.58 मीटर

Q) जैवलिन थ्रो के लिए अधिकतम ओलंपिक रिकॉर्ड कितने मीटर का है?

Ans : 90.57 मीटर

निष्कर्ष ( Conclusion )

भारत के लिए मेडल लाने वाले नीरज चोपड़ा ( Neeraj Chopra ) पर पूरे देश को नाज है। अपनी कड़ी मेहनत और अथक परिश्रम की बदौलत उन्होंने देश को 121 वर्षों के बाद ओलंपिक एथलेटिक में गोल्ड मेडल दिलवाया।

यह पूरे देशवासियों के लिए गर्व का पल है। मातृभूमि की सेवा के साथ देश की गौरव को बढ़ाने का काम नीरज ने बखूबी निभाया है। ऐसे होनहार लड़के को पूरा देश सैल्यूट करता है। भगवान हर किसी के घर में नीरज चोपड़ा जैसी संतान दे।

इस आर्टिकल के द्वारा मैंने नीरज चोपड़ा से संबंधित हर एक पहलू को आपके सामने रखने का प्रयास किया है। अगर कुछ छूट गया हो तो कृपया हमें कमेंट करके जरूर बताइएगा। ताकि मैं आपके लिए आर्टिकल्स को और इंप्रूव कर सकूं। साथ ही आपको नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय कैसा लगा और उनके जीवन से आपने क्या सीखा हमें कमेंट करके जरूर बताइएगा।

यह भी पढ़ें:-

कभी खाने के लिए तरसते थे आज कमाते हैं लाखों। जानिए मजदूर से Youtuber बने Isak Munda का जीवन परिचय

दंगल के बादशाह रोहित सरदाना का जीवन परिचय आप उनके जीवन से बहुत कुछ सीख सकते हैं।

दीपिका कुमारी की जीवनी। बांस के धनुष से करती थी प्रैक्टिस देश के लिए लाया मैडल।

देश लाने वाला क्यों पहुंचा सलाखों के पीछे जानिए पहलवान सुशील कुमार की जीवनी के बारे में।

सिद्धार्थ शुक्ला का जीवन परिचय

नरेंद्र मोदी का जीवन परिचय, निबंध

खान सर की जीवनी

Author: Vicky
Vicky, इस ब्लॉग वेबसाइट का फाउंडर है। बचपन से ही इनकी रूचि लेखन क्षेत्र में रही है। इनका लक्ष्य हिंदी भाषी क्षेत्र के लोगों के लिए हिंदी में जानकारी उपलब्ध करवाना है, जिन्हें अंग्रेजी में समस्या होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.