How to Get confirm ticket in train | ऐसे पाएं किसी भी ट्रेन में confirm ticket.

How to get confirm ticket in train : अगर आप इंडिया में रहते हैं तो कभी न कभी आपने Train में सफर जरूर किया होगा। क्योंकि ट्रेन का सफर कार या बस से अच्छा होता है। लेकिन जब भी हम ट्रेन का टिकट बुक कराने जाते हैं तो हमें यह क्यों बताया जाता है की पूरी ट्रेन बुक हो गई। क्या यह सच्ची में बुक होती है या इसके अलावा भी कुछ चीजें होती है? यहां आपको बहुत सारी चीजें समझ में आएगी क्योंकि एक ट्रेन के अंदर 12 अलग-अलग तरीकों के कोटा होते हैं। पूरी ट्रेन में जितनी सीट्स है उसका हमको रिजर्वेशन करने के लिए सिर्फ 50% मिलता है। बाकी 50% जाता कहां है?

रेलवे टिकट (ticket) के प्रकार [Types of train Tickets]

इस आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा कि जब भी आप ट्रेन में टिकट बुक करने जाएंगे तो किस तरीके से आप कर सकते हैं ताकि आपको हमेशा confirm ticket ही मिले। उसके पहले आइए हम समझते हैं यह जो 12 अलग-अलग तरीकों के कोटा होते हैं यह कौन-कौन से होते हैं। तो सबसे पहला कोटा होता है-

जनरल कोटा [General Quota]

इसको आम आदमी यानी कि कॉमन पर्सन के लिए बनाया गया है। यहां पर होता है कि आप 120 दिन पहले किसी भी ट्रेन में टिकट बुक कर सकते हैं। इसमें ARP पीरियड होता है, जिसका मतलब होता है Advance Reservation Period. यानी कि जब भी आप की Date Of Journy है, उस से 120 दिन पहले से रिजर्वेशन स्टार्ट हो जाते हैं। यहां जनरल कोटा के अंदर भी pul कोटा होता है जो कि पर्टिकुलर स्टेशन वाइज भी होता है।

मान लो मुझे जाना है उड़ीसा से झारखंड और बीच में कुछ बड़े-बड़े स्टेशन आ रहे हैं। मान लो मेरा ही है स्टेशन आ रहा है पारसनाथ तो, उस Particular पारसनाथ के लिए भी Specific कोटा है। ताकि पारसनाथ वालों को दिक्कत ना हो अगर पूरी ट्रेन भी फुल हो। लेकिन अगर आप पारसनाथ से रिजर्वेशन करते हैं तो आपको सीट (confirm ticket) मिल सकती है। जनरल कोटे में हर स्टेशन वाइज कोटा भी होता है। अब जो सेकंड नंबर पर सबसे बड़ा कोटा होता है उसका नाम है-

How to get confirm ticket in train
Image by Google- Credit to Wikimedia Commons

तत्काल कोटा [Tatkal quota]

आपने यह नाम जरूर सुना होगा, जितनी भी सीट है ट्रेन में उसका 30% पहले से ही तत्काल कोटा के नाम पर रिजर्व कर दिया जाता है। यह जो तत्काल कोटा है यह वापस जनरल लोगों के लिए ही है। जब भी ट्रेन स्टार्ट होगी उसके स्टेशन से 24 घंटे पहले ही यह तत्काल कोटा खुलता है और 30% सीट इसके अंदर भर जाती है। जो तीसरा कोटा होता है वह-

प्रीमियम तत्काल कोटा [Premium tatkal Quota]

यह ज्यादा ट्रेनों में नहीं है। यह एक्सपेरिमेंटल Purpose पर चल रहा है। इसका कहना यह है कि कुछ सीट हम रिजर्व करके रखते हैं। जब एकदम से बहुत सारे डिमांड बढ़ेगी तो प्राइस अपने आप Increase हो जाएगा। डिमांड कम होगी तो उन सीटों की प्राइस कम हो जाएगा। जिसके पास ज्यादा पैसा है वह प्रीमियम तत्काल के अंदर सीट ले सकता है। जो चौथे नंबर का कोटा है उसका नाम है-

महिला कोटा [Ladies Quota]

यह हर बोगी में हर कोच में 2-2 सीट Ladies के लिए रिजर्व होती है। जितनी ज्यादा बोगी होंगी उतनी ही ज्यादा सीट Ladies के लिए पहले से ही रिजर्व होंगी। अब जो पांचवें नंबर का कोटा होता है-

नीचे सीट वाली कोटा [Low Seat Quota]

उसे आप Low Seat Quota बोल सकते हो या Senior Citizen Quota बोल सकते हो। जिन को बिल्कुल नीचे वाली लोअर बर्थ ही चाहिए उनके लिए अलग से ही एक कोटा रहता है। इस कोटे के अंदर कंडीशन यह है कि अगर मेल पैसेंजर है तो उसकी 60+ age होना चाहिए और अगर Female पैसेंजर है तो 45+ age होना चाहिए।

अगर दो लोग जा रहे हैं तो 60+ और 45+ दोनों मिक्स होना चाहिए। ऐसा नहीं कि आपकी age कम वाली हो और किसी की ज्यादा है, और आप दोनों का एक साथ टिकट बुक कर रहे हो तो आपको जनरल कोटा में मिलेगा। अगर सिंगल ट्रेवल कर रहे हैं तभी उसको लोअर बर्थ मिलेंगे। इस तरीके के और भी कोटा बनाए गए हैं। इसके बाद जो कोटा आता है वह होता है-

दिव्यांग कोटा [Physically Handicapped]

यह कोटा होती है फिजिकली हैंडिकैप्ड लोगों के लिए। उसके लिए जो थोड़ी सीट होती है पहले से ही रिजर्व होती है। अब जो  सातवीं नंबर का कोटा होता है उसे आप Emergency Quota बोल सकते हैं-

आपातकालीन कोटा [Emergency Quota]

यह  किनके लिए है? यह है हमारे माननीय सम्माननीय सारे मिनिस्टर एमएलए या आप बोल सकते हैं जो भी मंत्री लोग हैं। उन सबके लिए यह कोटा होता है। यह सारे ट्रेन में होता है जो की आजकल पैसा देकर उनके द्वारा हम लोग हमारा रिजर्वेशन करते हैं। वेटिंग वाला उसे कंफर्म कराते हैं। इनके लिए ही एक अलग कोटा बनाया गया है। इसके बाद एक पार्लियामेंट कोटा अलग होता है। उनसे बड़े बड़े जो VVIP हैं उनके लिए भी पहले से ही सीट बचाके रिजर्व रखते हैं। क्योंकि बाकी लोगों के लिए अभी नहीं खुली हुई है।

सैनिक कोटा [Defense Quota]

इसके बाद जो कोटा आता है वह होता है Deffence कोटा जो कि हमारे आर्मी वालों के लिए नेवी वालों के लिए है। उसके बाद एक आता है फॉरेन टूरिस्ट कोटा-

विदेशी सैलानी कोटा [Foreign Tourist Quota]

अगर कोई फॉरेन ट्रैवल कर रहा है तो उनके लिए पहले से ही अलग से सीट डिसाइड है रिजर्व है।

ड्यूटी पास कोटा [Duty Pass Quota]

इसके बाद आता है ड्यूटी पास कोटा यह उनके लिए है जो रेलवे के कर्मचारी रेलवे के काम के लिए ही जाते हैं और अगर इन्हें को ही सीट नहीं मिलेगी तो रेलवे का काम कैसे होगा। रेलवे के जो एम्पलाई हैं उसके लिए अलग से रिजर्व सीटें होती है ताकि उसे इमरजेंसी में भी अगर जाना हो तो सारे ट्रेन में उसे Confirm ticket मिले।

युवा कोटा [Youva Quota]

अब जो  12वी नंबर का कोटा है उसे युवा कोटा बोला गया है। यह सिर्फ युवा ट्रेनों के लिए है और यह स्टूडेंट्स के लिए है।

ऐसे होता है सीटों (Ticket) का बंटवारा

घुमा फिरा के एक छोटी सी ट्रेन में इतने सारे कोटा भरते भरते जो हमारे लिए सीट बचती है वह मात्र 50% होती  है। अब देखो इतना सारा कोटा तो आपको समझ में आ गया होगा। एक छोटा सा Example समझ लेते हैं मान लो अगर मैं जिस ट्रेन में ट्रेवल कर रहा हूं वह एक एक्सप्रेस ट्रेन है उसके अंदर 12 Coaches हैं।

अगर हम मान लेते हैं सारे कोचेस हैं स्लीपर क्लास के और एक Coach में 72 सीट होते हैं। इस तरह से 12 को 72 से गुना करेंगे टोटल ट्रेन के अंदर जो आपको सीट मिलेंगी वह होगी 864 सीट।
इसमें से 8 परसेंट कोटा होता है वह होता है पुल कोटा जोकि स्टेशन वाइज है जहां बड़ा स्टेशन है वहां पर ज्यादा सीटें मिलेंगी। इस तरह से अगर हम कैलकुलेट करेंगे जिसमें 69 सीट को माइनस कर देंगे और 30% जो सीट्स आएंगी वह तत्काल कोटा के लिए।

तत्काल की भी हम माइनस कर देते हैं 259 सीट। अब इसमें आप मान सकते हो Ladies के लिए दो-दो सीट अगर हम एक-एक कोच में भी मानते हैं तो  24 सीट और माइनस कर सकते हैं। अब जितनी सीट्स बच गई उसके 35% सीट्स जो है वह लोवर वाली है। जो साइड Lower और साइड Uper आता है। साइड लोअर वाली सीट जो बच गई है उसको हम जनरल में लेंगे। बाकी हम RAC को देंगे। उसकी हम और माइनस कर सकते हैं 71. माइनस करते-करते हमारे पास जो सीट्स बचेंगे वह है 441 सीट। 441 में भैया लगेगा अब मिनिस्टर का कोटा इसका कोटा उसका कोटा पता नहीं फिर घूम फिर के पूरी ट्रेन में अगर 800 सीट है तो हमारे पास आए 200 से 300 सीट।

How to get confirm ticket in train

अब अगर मैं रिजर्वेशन कर रहा हूं तो मैं क्या क्या कर सकता हूं, इन सीटों को अपने पास लाने के लिए। अब देखो आप जब भी टिकट बुक करेंगे आईआरसीटीसी के वेबसाइट से तो आपको 6 कोटे आपको खुद दिखाए जाएंगे। सबसे पहले आप जनरल में देखो। उसके बाद तत्काल का टाइम आता है। आप उसमें देखो उसके बाद अगर आपके साथ कुछ ऐसे लोग ट्रेवल कर रहे हैं जो बाकी सीनियर सिटीजन में आ सकते हैं या लेडीज कोटा में आ सकते हैं। उनकी सिंगल टिकट आप उनके अंदर करना तभी मिलेगी। अगर उनके साथ आप कर दोगे तो जनरल कोटे में माना जाएगा। उनके लिए वहां आप कर सकते हो।

वेटिंग ऐसे बनते हैं Confirm Ticket

आप वेटिंग में ले सकते हो वेटिंग में अगर आपकी टिकट आ गई है तो आप वेट करिए क्या पता वह वेटिंग क्लियर हो जाए। क्योंकि जब भी ट्रेन स्टार्ट होगी चार्ट बनेगा जो बाकी कोटे हैं इतने सारे उनकी सीट रिजर्व है लेकिन जब अब ट्रेन चल रही है अगर किसी ने उसकी रिजर्व को कंफर्म नहीं करा है तो उस सीट का कोटा उठाकर अब जाएगा वेटिंग वालों के पास तो वेटिंग का जो टिकट है वह कंफर्म होना शुरू हो जाएगा या अगर कोई बीच में कोई बीच में कैंसिल करता है तो वह भी वेटिंग में हो सकता है तो कभी-कभी ऐसा होता है कि 50 वेटिंग भी क्लियर हो जाती है। क्योंकि इतने सारे कोटा में अगर किसी ने यूज नहीं करी तो वह कोटा वेटिंग वालों को मिल जाता है।


लेकिन अगर बहुत सारे लोगों ने सारे कोटे भर दिए और अगर आपकी 5 या 2 भी वेटिंग है तो भी कभी-कभी क्लियर नहीं हो पाती है। सब कुछ डिपेंड करता है इस कोटा के ऊपर और अगर आपके पास कुछ जुगाड़ है तो मिनिस्टर के कोटे में चले जाओ। एक फॉर्म भरकर देना पड़ता है उस कोटे में आपको Confirm Ticket मिल जाएगी। वह नहीं मिलती है तो फिर आप तत्काल में ट्राई करो तत्काल में नहीं मिलती है तो भैया प्रीमियम तत्काल में ट्राई करो।

इस तरीके से आप अलग-अलग कोटा से अपना दिमाग लगाकर कुछ न कुछ जुगाड़ बिठा कर टिकट बुक कर लोगे तो भैया घुमा फिरा कर इस सिस्टम में इतना झोलझाल है कि मैं खुद सोच कर कंफ्यूज हो गया कि मैं कौन सी ट्रेन में जा रहा हूं और जो मुझे टिकट मिल रही है वह कौन से कोटा की है।
दोस्तों मुझे उम्मीद है या आर्टिकल आप लोगों को अच्छा लगा होगा अगर अच्छा लगे तो इसे अपने चाहने वालों के साथ साझा करें। आर्टिकल से संबंधित कोई सुझाव हो तो कृपया कमेंट करके जरूर बताएं।

यह भी पढ़ें-

Kaun Banega Krorepati | KBC में जीतने वाले विनर्स को पैसा कौन देता है?

Petrol Diesel price : क्यों होती है सरकार के नियंत्रण से बाहर

मुद्रा लोन क्या है? | Pradhan Mantri Mudra Yojana Full Details in Hindi

SWOT Analysis क्या है? विश्लेषण कर अपनी ताकत पहचानिए और सही Career चुनिए

Author: Vicky
Vicky, इस ब्लॉग वेबसाइट का फाउंडर है। बचपन से ही इनकी रूचि लेखन क्षेत्र में रही है। इनका लक्ष्य हिंदी भाषी क्षेत्र के लोगों के लिए हिंदी में जानकारी उपलब्ध करवाना है, जिन्हें अंग्रेजी में समस्या होती है।

2 thoughts on “How to Get confirm ticket in train | ऐसे पाएं किसी भी ट्रेन में confirm ticket.

Leave a Reply

Your email address will not be published.